/\/\/\/\/\/\/\/\/\/\/\/\/\!! श्री गणेशाय नमः !!/\/\/\/\/\!! ૐ श्री श्याम देवाय नमः !!\/\/\/\/\!! श्री हनुमते नमः !!/\/\/\/\/\/\/\/\/\/\/\/\/\/\

Sunday, 19 December 2010

!! यो साँचो देव कुहावे ह, श्यामधणी... !!



अपणा सगला भगतां री पत राखन हालो, निज भगतां पे गहरी महर लुटावन हालो, माता मोरवी रो लाल खाटू हालो श्यामधणी जी री बात ही सबस्यूं निराली ह... साँचो साँचो म्हारा धणी रो नाम ह और साँचो साँचो ही म्हारा बाबा जी रो खाटूधाम ह...


खाटू हालो सांवरियों, भगतां की पत राखनियो...
यो साँचो देव कुहावे ह, श्यामधणी...
यो साँचो देव कुहावे ह, श्यामधणी...
 


खाटू हाले श्यामधणी की, सारे जग में चरचा ह...
हाथ्यू हाथ मिले भगतां न, श्यामधणी का परचा ह...
जो भी हाथ पसारे ह, वां पे खुशियाँ वारे ह...
यो गहरी महर लुटावे ह, श्यामधणी...
यो साँचो देव कुहावे ह, श्यामधणी...



खाटू हालो श्याम धणी तो, सब का संकट काटे ह...
बिगड़ी बात बनावे सबकी, कोई न नहीं नाटे ह...
जो भी अरज लगावे ह, मन कि मुरादां पावे ह...
यो सबकी आस पुरावे ह, श्यामधणी...
यो साँचो देव कुहावे ह, श्यामधणी...



खाटू हाले श्यामधणी न, जो भी एक बार ध्यायो ह...
'रवि' कहे वो जीवन माँहि, कभी नहीं दुःख पायो ह...
जैसी भक्ति ल्यावोगा, वैसो ही फल पावोगा...
यो साँचो न्याय चुकावे ह, श्याम धणी...
यो साँचो देव कुहावे ह, श्यामधणी...



खाटू हालो सांवरियों, भगतां की पत राखनियो...
यो साँचो देव कुहावे ह, श्यामधणी...
यो साँचो देव कुहावे ह, श्यामधणी...



 
!! जय जय मोरवीलाल बाबा श्यामधणी की !!
!! जय जय लीले रा असवार श्यामधणी की !!
!! जय जय शीश के दानी श्री श्यामधणी की !!
!! जय जय हो लखदातार श्री श्यामधणी की !!
!! जय जय तीन बाणधारी श्री श्यामधणी की !!

भजन : "श्री रवि जी"

2 comments:

  1. आपकी यह सशक्त और सुन्दर रचना
    आज के चर्चा मंच पर सुशोभित की गई है!
    http://charchamanch.uchcharan.com/2010/12/375.html

    ReplyDelete

थे भी एक बार श्याम बाबा जी रो जयकारो प्रेम सुं लगाओ...

!! श्यामधणी सरकार की जय !!
!! शीश के दानी की जय !!
!! खाटू नरेश की जय !!
!! लखदातार की जय !!
!! हारे के सहारे की जय !!
!! लीले के असवार की जय !!
!! श्री मोरवीनंदन श्यामजी की जय !!

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

लिखिए अपनी भाषा में