/\/\/\/\/\/\/\/\/\/\/\/\/\!! श्री गणेशाय नमः !!/\/\/\/\/\!! ૐ श्री श्याम देवाय नमः !!\/\/\/\/\!! श्री हनुमते नमः !!/\/\/\/\/\/\/\/\/\/\/\/\/\/\

Saturday, 18 December 2010

!! भगतां रो मान बढाओ जी... !!



श्री श्यामधणी खाटू वाले से सभी भक्तों की यही अरदास है कि...



ल्यो हाथां लगाम, श्याम थे लीलै चढ़ क आओ जी...
ल्यो हाथां लगाम, श्याम थे लीलै चढ़ क आओ जी...
भगतां रो मान बढाओ जी...



दरबार सजाया हां, भगतां न बुलाया हां, श्याम थे आ भी जाओ...
मन म चाव घणो, बाबा थार दर्शन को, दर्शन दे भी जाओ...
ज्योति जगाई श्याम, ज्योति जगाई श्याम, ज्योति निरखण आओ जी...
भगतां रो मान बढाओजी....




था बिन ह फीको, दरबार यो थारो, रंग बरसा भी जाओ...
बरसैलो जद रंग, थे बाबा आओ, झलक दिखला भी जाओ...
बाट उडिका श्याम, बाट उडिका श्याम, आकर म्हान धीर बंधाओ जी...
भगतां रो मान बढाओ जी....




अगवानी म थारा, भगत खड्या ह श्याम, पलकां बिछाय कर...
मनुआर थारी जी, करस्यां म्हें सब मिलकर, देखो थे आय कर...
बांध घुंघरू श्याम, बांध घुंघरू श्याम, 'टीकम' रास रचाओ जी...
भगतां रो मान बढाओ जी...



ल्यो हाथां लगाम, श्याम थे लीलै चढ़ क आओ जी...
ल्यो हाथां लगाम, श्याम थे लीलै चढ़ क आओ जी...
भगतां रो मान बढाओ जी...



!! जय जय मोरवीनंदन, जय जय बाबा श्याम !!
!! काम अधुरो पुरो करज्यो, सब भक्तां को श्याम !!
!! जय जय शीश के दानी, जय जय खाटू धाम !!
!! म्हे आया शरण तिहारी, शरण म अपणे लेलो श्याम !!

भजन : "श्री महाबीर जी"

"कीर्तन की ह रात बाबा आज थाणे आनो ह" के तर्ज़ पर आधारित

2 comments:

  1. बाबा के भक्ति रस में हमने भी स्नान कर लिया!

    ReplyDelete
  2. !! जय जय मोरवीनंदन, जय जय बाबा श्याम !!

    ReplyDelete

थे भी एक बार श्याम बाबा जी रो जयकारो प्रेम सुं लगाओ...

!! श्यामधणी सरकार की जय !!
!! शीश के दानी की जय !!
!! खाटू नरेश की जय !!
!! लखदातार की जय !!
!! हारे के सहारे की जय !!
!! लीले के असवार की जय !!
!! श्री मोरवीनंदन श्यामजी की जय !!

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

लिखिए अपनी भाषा में