/\/\/\/\/\/\/\/\/\/\/\/\/\!! श्री गणेशाय नमः !!/\/\/\/\/\!! ૐ श्री श्याम देवाय नमः !!\/\/\/\/\!! श्री हनुमते नमः !!/\/\/\/\/\/\/\/\/\/\/\/\/\/\

Friday, 25 February 2011

!! सच्चे दिल से श्याम पुकारो, रुक नही पायेगा... !!




भगवान सर्व समर्थ होते हुए भी अपने निज भक्तों से दूर होने में असमर्थ है... इसलिए जब कोई भक्त अपने आराध्य, अपने इष्ट को सच्चे मन से उनका नाम लेकर पुकारता है, तो भगवन अपने आप को रोक नही पाते और अपने भक्त के पास उसे गले लगाने दौड़े चले आते है... इसलिए कहते है, कि...




बाबा आयेगा, मेरा बाबा आयेगा...
बाबा आयेगा, मेरा  बाबा आयेगा...
सच्चे दिल से श्याम पुकारो, रुक नही पायेगा...
सच्चे दिल से श्याम पुकारो, रुक नही पायेगा...
बाबा आयेगा, मेरा बाबा आयेगा...



वो दिन भी आयेगा, श्याम जब आयेगा...
दीन बंधू हम पर, दया बरसायेगा...
कलयुग का अवतार श्याम, हमें गले लगायेगा...
सच्चे दिल से श्याम पुकारो, रुक नही पायेगा...
बाबा आयेगा, मेरा बाबा आयेगा...



ये अपने भक्तों के, नही दुःख देख सके..
ये उनसे मिलने से, न खुद को रोक सके...
दुःख का साथी श्यामबाबा, साथ निभायेगा...
सच्चे दिल से श्याम पुकारो, रुक नही पायेगा...
बाबा आयेगा, मेरा बाबा आयेगा...



सहारा बनता है, हारने वालो का..
मुकद्दर बनता है, मानने वालो का...
'शिब' हारे के साथी का, जयकार लगायेगा...
सच्चे दिल से श्याम पुकारो, रुक नही पायेगा...
बाबा आयेगा, मेरा बाबा आयेगा...



बाबा आयेगा, मेरा बाबा आयेगा...
बाबा आयेगा, मेरा बाबा आयेगा...
सच्चे दिल से श्याम पुकारो, रुक नही पायेगा...
सच्चे दिल से श्याम पुकारो, रुक नही पायेगा...
बाबा आयेगा, मेरा बाबा आयेगा...



!! जय जय मोरवीनंदन, जय जय बाबा श्याम !!
!! काम अधुरो पुरो करज्यो, सब भक्तां को श्याम !!
!! जय जय लखदातारी, जय जय श्याम बिहारी !!
!! जय कलयुग भवभय हारी, जय भक्तन हितकारी !!


भजन : "श्री शिब अग्रवाल जी"
श्री श्याम बाबा के ये अनुपम दर्शन "श्री श्याम मंदिर, गैंगेज गार्डन, शिबपुर, हावड़ा" के है...

No comments:

Post a Comment

थे भी एक बार श्याम बाबा जी रो जयकारो प्रेम सुं लगाओ...

!! श्यामधणी सरकार की जय !!
!! शीश के दानी की जय !!
!! खाटू नरेश की जय !!
!! लखदातार की जय !!
!! हारे के सहारे की जय !!
!! लीले के असवार की जय !!
!! श्री मोरवीनंदन श्यामजी की जय !!

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

लिखिए अपनी भाषा में